1 लीटर पेट्रोल का दाम 25 रुपया, मोदी सरकार ले रही 68 रुपया… क्यों ??

0

आप सभी लोगो ने सुना होगा की अन्तराष्ट्रीय बाजार में पेट्रोल और डीजल की कीमत काफी कम हो चुकी है .. लेकिन  उस अपेक्षा में भारत में दाम कम नहीं हुए हैं | आखिर क्यों भारतीय सरकार दाम कम होने का फायदा आम जनता तक नहीं पहुचने दे रही है |

इस समय डीजल और पेट्रोल क्रमशः   17 और 25 रूपये प्रति लीटर हैं  लेकिन हमारे और आपके लिए 56.83 और   68.07  प्रति लीटर है | आखिर क्यों इतने दाम का अंतर है |

कारण क्या है ??

दरअसल केंद्र सरकार एक्साइज ड्यूटी बढ़ा के रखी  हुई है और पिछले 2 सालों में इसे  कई गुना बढाया गया है |

हालांकि बढ़ी हुई एक्साइज ड्यूटी को ले कर  केंद्र सरकार की अपनी दलील है | उसके अनुसार तेल कंपनियों को काफी घाटा उठाना पड़ता है कच्चे तेल को बाहर  से मंगवाने  में,  तो उन घाटों को कम करने के लिए टैक्स बढाया गया है | साथ ही उन पैसों का इस्तेमाल देश के विकास में ही किया जायेगा |

केंद्र सरकार सिर्फ टैक्स बढाती तो ठीक था , लेकिन राज्य सरकारें भी पेट्रोल और डीजल पर टैक्स लगाने में कम नहीं हैं | राज्य सरकारें भी मुनाफा कमाने और अपने खजाने भरने के लिए जनता की जेब पर टैक्स लगा देती है |

वैसे ज्यादा दाम से एक फायदा यह भी है की लोग पेट्रोल और डीजल कम इस्तेमाल  करेंगे | वैसे भी हमारा देश प्रदूषण की समस्या से जूझ रहा है ,ऐसे में यह निर्णय फायदेमंद हो सकता है |

Share.

Leave A Reply